1. हिन्दी समाचार
  2. अयोध्या
  3. लखनऊ: अयोध्या दर्शन के आमंत्रण को सपा ने किया अस्वीकार, सीएम ने सपा पर साधा निशाना…

लखनऊ: अयोध्या दर्शन के आमंत्रण को सपा ने किया अस्वीकार, सीएम ने सपा पर साधा निशाना…

यूपी विधानमंडल का बजट सत्र जारी, बजट पेश होने के बाद नेताओं का बयानबाजी जारी, अयोध्या दर्शन के आमंत्रण को सपा ने किया अस्वीकार, सीएम योगी ने सपा पर जमकर साधा निशाना ,

By: Desk Team  RNI News Network
Updated:
gnews
लखनऊ: अयोध्या दर्शन के आमंत्रण को सपा ने किया अस्वीकार, सीएम ने सपा पर साधा निशाना…

यूपी विधानमंडल का बजट सत्र जारी है. पांच फरवरी को बजट पेश करने के बाद राम मंदिर जाने को लेकर भाजपा और सपा में बयानबाजी लगातार जारी है. भाजपा ने सभी विधायकों को 11 फरवरी को अयोध्या दर्शन कराने का आमंत्रण दिया है जिसे सपा नेताओं ने अस्वीकार कर दिया है, तो वहीं अयोध्या में बनने वाली मस्जिद  के निमंत्रण को लेकर प्रस्ताव की बात कही है. इसके बाद से लगातार नेताओ की ओर से प्रतिक्रिया सामने आ रही है. फिलहाल बुधवार को यूपी विधानसभा की बैठक में सीएम योगी ने संबोधन करते हुए सपा प्रमुख अखिलेश यादव पर जमकर निशाना साधा है.

 

दरअसल मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा, 2017 से पहले उत्तर प्रदेश में जिन लोगों ने शासन किया. वे उत्तर प्रदेश को कहां लेकर गए? उन्होंने यूपी वासियों के सामने पहचान का संकट खड़ा कर दिया था. इसी के साथ सीएम योगी ने आगे कहा कि, यहां का नौजवान पहचान छिपाने के लिए मजबूर था. नौजवान कहीं जाता था तो नौकरी नहीं मिलती थी. किराए पर कमरे की बात तो दूर होटल और धर्मशालाओं में भी कमरे नहीं मिल पाते थे और आज यूपी ने 22 जनवरी 2024 की घटना को भी देखा है. राम मंदिर को लेकर सीएम योगी ने कहा कि हमने अयोध्या में राम मंदिर बनाने का वचन निभाया और वहीं मंदिर बनवाया. हम सिर्फ बोलते नही करके दिखाते है. उन्होंने कहा कि डबल इंजन की सरकार ने प्रदेश की छवि में बदलाव किया है। प्रदेश तरक्की कर रहा है। प्रदेश में धार्मिक पर्यटन तेजी से बढ़ रहा है। देश ही नहीं दुनिया के नक्शे पर यूपी को पहचान मिल रही है। अयोध्या में विदेशों से पर्यटक आ रहे हैं। आगे सीएम योगी ने कहा कि प्रदेश की छवि में सबसे बड़ा परिवर्तन कानून व्यवस्था के मजबूत होने से हुआ है। अब यहां निवेशक आ रहे हैं और बड़े पैमाने पर निवेश करने के लिए तैयार हैं।

 

मुख्यमंत्री योगी ने कहा कि अयोध्या के विकास के लिए 31 हजार करोड़ की परियोजनाएं चल रही हैं. पहले अयोध्या की गलियों में गोलियों की तड़तड़ाहट होती थी. परिक्रमा करने पर रोक थी. लेकिन अब अयोध्या पूरी तरह बदल रहा  है. पहले कर्फ्यू का सन्नाटा था अब मंगल भवन अमंगल हारी… का गान होता है। आज दुनिया भर से लोग अयोध्या आ रहे हैं. अयोध्या को दुनिया की सांस्कृतिक राजधानी बनाने के लिए काम किया जा रहा है.

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें गूगल न्यूज़, फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...