1. हिन्दी समाचार
  2. अयोध्या खबरें

अयोध्या खबरें (Ayodhya News in Hindi)

लखनऊ: 491 श्रद्धालुओं को कटरा(अयोध्या) लेकर पहुँची आस्था ट्रेन

लखनऊ: 491 श्रद्धालुओं को कटरा(अयोध्या) लेकर पहुँची आस्था ट्रेन

पश्चिम बंगाल के बर्धमान से चलकर गाड़ी संख्या 00305 विशेष आस्था ट्रेन  बुधवार को 491 श्रद्धालुओं को अयोध्या के पूर्वोत्तर रेलवे लखनऊ मंडल के कटरा स्टेशन पर दोपहर के 3 :30 बजे पहुंच चुकी है। आस्था ट्रेन के आगमन पर पूर्वोत्तर रेलवे लखनऊ मंडल के मंडल रेल प्रबंधक आदित्य कुमार , अपर मंडल रेल प्रबंधक (इंफ्रा)  राजीव कुमार एवं अन्य अधिकारी स्टेशन पर ही मौजूद रहे। बता दें कि इस

लखनऊ: अयोध्या दर्शन के आमंत्रण को सपा ने किया अस्वीकार, सीएम ने सपा पर साधा निशाना…

लखनऊ: अयोध्या दर्शन के आमंत्रण को सपा ने किया अस्वीकार, सीएम ने सपा पर साधा निशाना…

यूपी विधानमंडल का बजट सत्र जारी, बजट पेश होने के बाद नेताओं का बयानबाजी जारी, अयोध्या दर्शन के आमंत्रण को सपा ने किया अस्वीकार, सीएम योगी ने सपा पर जमकर साधा निशाना ,

अयोध्या: राम मंदिर से जुड़ी एक ऐसी संकल्प जो लोगों को कर रही है हैरान

अयोध्या: राम मंदिर से जुड़ी एक ऐसी संकल्प जो लोगों को कर रही है हैरान

राजस्थान का एक दंपति ना ही कोई बैंड बाजा ना बारात बस अपने संकल्प को पूरा करने के लिए कार्य सेवक पुरम को ही विवाह स्थल बना डाला राम मंदिर को लेकर लिए गए संकल्प को पूरा करने के लिए राजस्थान का दंपति बाकायदा हिंदू रीति रिवाज के साथ आज सात फेरे भी लिया है।

लोकसभा चुनाव 2024 : सपा से पूर्व कैबिनेट मंत्री अवधेश प्रसाद को बनाया गया प्रत्याशी

लोकसभा चुनाव 2024 : सपा से पूर्व कैबिनेट मंत्री अवधेश प्रसाद को बनाया गया प्रत्याशी

समाजवादी पार्टी से लोकसभा सीट से पूर्व कैबिनेट मंत्री अवधेश प्रसाद को प्रत्याशी बनाया गया है. इस दौरान अवधेश प्रसाद का बयान सामने आया है.

अयोध्या: रंग लाई पीएम मोदी और रेलमंत्री अश्वनी वैष्णव की मेहनत

अयोध्या: रंग लाई पीएम मोदी और रेलमंत्री अश्वनी वैष्णव की मेहनत

अयोध्या में रामलला के दर्शनों के लिए भक्तों की भारी भीड़ उमड़ रही है। गर्भगृह में रामलला की प्राण प्रतिष्ठा के बाद बड़ी संख्या में श्रद्धालु नव्य और भव्य अयोध्या के दर्शन के लिए पहुंच रहे हैं। अयोध्या में 23 जनवरी को एक दिन में ही लगभग 5 लाख से ज्यादा लोग पहुंच गए थे। इतनी भीड़ होने के बावजूद सभी रामभक्तों ने बिना किसी व्यवधान(कुछ अपवाद को छोड़कर) के

रामलला के गढ़ में चलने वाली वाटर मेट्रो के मनमोहक दृश्य

रामलला के गढ़ में चलने वाली वाटर मेट्रो के मनमोहक दृश्य

उत्तर प्रदेश के अयोध्या जिले में राम मंदिर में रामलला की प्राण-प्रतिष्ठा के बाद अब योगी सरकार इस शहर का पूरी तरहल से कायाकल्प करने में लग चुकी है। जिसके अंतर्गत योगी सरकार सरयू नदी में वाटर मेट्रो शुरू करने की पूरी योजना बना चुकी है। अयोध्या में पर्यटन के क्षेत्र को और समृद्ध करने के लिए,यहाँ जल पर्यटन को बढ़ावा देने के उद्देश्य के साथ वाटर मेट्रो की शुरुआत

आइए जानते हैं कि कैसे दिखती है अयोध्या के टेंट सिटी

आइए जानते हैं कि कैसे दिखती है अयोध्या के टेंट सिटी

22 जनवरी को अयोध्या में हुए रामलल्ला के प्राण प्रतिष्ठा के बाद अयोध्या में राम भक्तों के आने का आंकड़ा आसमान छूने लगा है। जिसके अंतर्गत अयोध्या प्रशासन को पहले दिन यानी 23 जनवरी को दर्शनार्थियों की भीड़ से हाथ-पांव फूल गए थे पर उसके बाद स्थित को काबू में कर लिया गया था और वर्तमान समय में आंकड़े के अनुसार 20 लाख लोगों से ज्यादा लोगों ने अपने प्रभु

बुलंदशहर – रामलला की प्राण प्रतिष्ठा के बाद पीएम ने बुलंदशहर से किया शंखनाद

बुलंदशहर – रामलला की प्राण प्रतिष्ठा के बाद पीएम ने बुलंदशहर से किया शंखनाद

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी बृहस्पतिवार को मिशन 2024 के लिए चुनावी रैलियों का शंखनाद किया। दरअसल पीएम मोदी ने बुलंदशहर में लोकसभा चुनाव से पूर्व की पहली चुनावी रैली को संबोधित किए।

लखनऊ: लखनऊ से चलने वाली हैं 17 आस्था ट्रेनें, अयोध्या में भक्तों के भीड़ को देखकर रेलवे का फैसला

लखनऊ: लखनऊ से चलने वाली हैं 17 आस्था ट्रेनें, अयोध्या में भक्तों के भीड़ को देखकर रेलवे का फैसला

दो दिन पहले यानी 22 जनवरी 2024 को अयोध्या में हुए रामलला के प्राण प्रतिष्ठा आयोजन के बाद उत्तर प्रदेश के लोगों को नित नई-नई खुशियां मिल रही हैं। ऐसे में श्रद्धालुओं की भीड़ को देखते हुए रेलवे ने आस्था स्पेशल ट्रेनों की सूची को जारी कर दिया है। ये ट्रेने 30 तारीख से अपने नियमित रूट पर चलेंगी।

अयोध्या: सीएम योगी बाले- राम भक्तों को कोई दिक्कत ना हो

अयोध्या: सीएम योगी बाले- राम भक्तों को कोई दिक्कत ना हो

अयोध्या में 22 जनवरी 2022 को रामलला की प्राण प्रतिष्ठा के बाद अगले दिन यानि 23 जनवरी 2024 को मंदिर में आम लोगों के बालक राम के दर्शन के द्वार खोल दिए गए हैं। ऐसे में पहले ही दिन रात के 3 बजे से ही दर्शन के लिए श्रद्धालुओं की भारी भीड़ देखने को मिली। पहले ही दिन इस कदर श्रद्धालुओं की भीड़ रामलला के दर्शन के लिए अयोध्या आई

अयोध्या: अयोध्या में राम मंदिर के इतिहास पर एक नजर

अयोध्या: अयोध्या में राम मंदिर के इतिहास पर एक नजर

500 साल लंबे इंतजार के बाद अखिरकार अयोध्या के राम मंदिर में रामलला की प्राण-प्रतिष्ठा कर दी गई है। इसके बाद रामलला अपने दिव्य, नव्य और भव्य महल में विराजमान हो गए हैं। पीएम मोदी ने मंदिर के गर्भगृह में प्राण-प्रतिष्ठा पूजा के लिए संकल्प लिया, पूजा अर्चना की। इसके बाद पीएम मोदी ने रामलला की आंख से पट्टी खोली और कमल का फूल लेकर पूजन किया। बता दें कि

दिन 5: मुख्य पुजारी सत्येंद्र दास बोले- प्राण प्रतिष्ठा से पहले नई प्रतिमा में राम की आंखों से कपड़ा हटाना गलत

दिन 5: मुख्य पुजारी सत्येंद्र दास बोले- प्राण प्रतिष्ठा से पहले नई प्रतिमा में राम की आंखों से कपड़ा हटाना गलत

22 जनवरी 2024 को अयोध्या मंदिर में रामलला प्राण-प्रतिष्ठा का बाद विराजमान होंगे। उनके प्राण प्रतिष्ठा का कार्यक्रम बीते 16 जनवरी से शुरू हो गया है और आज इस कार्यक्रम का 5वां दिन है और आज 81 कलशों के जल से मंदिर के गर्भगृह को पवित्र किया जाएगा। वहीं कल पहली बार रामलला का पूरा चेहरा दिखा।

श्रीराम के ये 5 मंदिर जिनका इतिहास है हजारों साल से भी पुराना

श्रीराम के ये 5 मंदिर जिनका इतिहास है हजारों साल से भी पुराना

22 जनवरी 2024 को अयोध्या मंदिर में रामलला प्राण-प्रतिष्ठा का बाद विराजमान होंगे। उनके प्राण प्रतिष्ठा का कार्यक्रम बीते 16 जनवरी से शुरू हो गया है और आज इस कार्यक्रम का 5वां दिन है और आज 81 कलशों के जल से मंदिर के गर्भगृह को पवित्र किया जाएगा। आज के इस पोस्ट में हम आपको बताने जा रहे हैं ऐसे पांच मंदिर जो अयोध्या, चित्रकूट, नासिक और जानकी मंदिर के

राम लला के प्राण प्रतिष्ठा को देखते हुए अयोध्या रूट 23 जनवरी तक नो पार्किंग जोन

राम लला के प्राण प्रतिष्ठा को देखते हुए अयोध्या रूट 23 जनवरी तक नो पार्किंग जोन

लखनऊ से अयोध्या जाने वाले मार्गों को 23 जनवरी तक नो पार्किंग जोन बना दिया गया है। जिसके अंतर्गत एयरपोर्ट से शहीदपथ, अयोध्या मार्ग, सुल्तानपुर रोड से पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे और किसान पथ को ग्रीन कारीडोर रूप में परिवर्तित कर दिया गया है। इस दौरान इन मार्गों पर ई-रिक्शा के संचालन पर भी रोक लगा दिया गया है और चौराहों पर आटो, टेंपो, बस समेत सवारी वाहन रुकेंगे।