1. हिन्दी समाचार
  2. अयोध्या
  3. लोकसभा चुनाव 2024 : सपा से पूर्व कैबिनेट मंत्री अवधेश प्रसाद को बनाया गया प्रत्याशी

लोकसभा चुनाव 2024 : सपा से पूर्व कैबिनेट मंत्री अवधेश प्रसाद को बनाया गया प्रत्याशी

समाजवादी पार्टी से लोकसभा सीट से पूर्व कैबिनेट मंत्री अवधेश प्रसाद को प्रत्याशी बनाया गया है. इस दौरान अवधेश प्रसाद का बयान सामने आया है.

By: Desk Team  RNI News Network
Updated:
gnews
लोकसभा चुनाव 2024 : सपा से पूर्व कैबिनेट मंत्री अवधेश प्रसाद को बनाया गया प्रत्याशी

अयोध्या : सपा सुप्रीमो अखिलेश यादव ने मंगलवार को लोकसभा चुनाव की पहली लिस्ट जारी की. इस लिस्ट में फैजाबाद लोकसभा सीट से मुलायम के साथी रहे अवधेश प्रसाद को प्रत्याशी बनाया गया है. अवधेश प्रसाद ने कहा कि शीर्ष नेतृत्व ने उन पर विश्वास जताया है. इसके लिए राष्ट्रीय अध्यक्ष का आभार है.

इसके साथ ही फैजाबाद लोकसभा सीट को लेकर अपनी प्राथमिकताएं गिनाते हुए अवधेश प्रसाद ने कहा कि यह सीट भारत में ही नहीं पूरी दुनिया में जानी जाती है. इस पर मुझे समाजवादी पार्टी ने टिकट दिया है. मैं शीर्ष नेतृत्व अखिलेश यादव जी को धन्यवाद देता हूं. इसके साथ ही अवधेश प्रसाद ने कहा कि फैजाबाद की जनता की सेवा करना मर्यादा की नगरी में मर्यादा के साथ विकास प्राथमिकता रहेगी। राष्ट्रीय अध्यक्ष ने मुझे टिकट दिया है.

उन्होने आगे कहा कि – मै इतिहास कायम करूंगा जिसमें बेरोजगारों, गरीबों और सभी समाज के लोगों के लिए निरंतर काम करूंगा. उन्होंने कहा कि मेरे रोम रोम में राम है उन्हीं की कृपा से मैं फ़ैजाबाद सीट से 9 बार के विधायक औऱ 6 बार मंत्री रह चुका हूँ.

बता दे कि मूलरूप से सोहावल तहसील क्षेत्र के गौहनिया सुरुवारी के रहने वाले अवधेश प्रसाद ने वर्ष 1977 में जनता पार्टी के बैनर तले सियासत की शुरूआत की थी. तब जनपद की सुरक्षित विधासभा रही सोहावल विधानसभा क्षेत्र से मैदान में उतरे और जीत दर्ज की. फिर वर्ष 2008 के परिसीमन के बाद सोहावल सु. विधानसभा क्षेत्र का अस्तित्व खत्म हुआ और मिल्कीपुर विधानसभा को सुरक्षित क्षेत्र घोषित किया गया तो अवधेश प्रसाद ने मिल्कीपुर को अपनी सियासी जमीन बनाई.

वहीं वर्ष 2012 की सपा लहर में मिल्कीपुर क्षेत्र से विधायक चुने गये और कैबिनेट मंत्री भी बने. हालांकि वर्ष 2017 की बीजेपी लहर में सियासत के महारथी माने जाने वाले प्रसाद अपनी सीट बचा नहीं सके और हार का स्वाद चखना पड़ा, लेकिन उस हार को प्रसाद ने 2022 में जीत में बदल नौवीं बार विधायक बन गये.

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें गूगल न्यूज़, फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...