1. हिन्दी समाचार
  2. आगरा
  3. आगरा: आगरा स्मार्ट सिटी पर ग्रहण, सड़कों पर भरा पड़ा कूड़े के ढ़ेर

आगरा: आगरा स्मार्ट सिटी पर ग्रहण, सड़कों पर भरा पड़ा कूड़े के ढ़ेर

आगरा नगर निगम के अधिकारी शहर की सफाई व्यवस्था पर अपनी आंखें बंद कर चुके हैं।आपको बता दें कि "यूपी की बात" की टीम शहर के अलग-अलग वार्डों में जाकर साफ सफाई का मुआयना कर रही है। जिसमें स्वच्छता के मामले में नगर निगम के हर वादे हर जगह फेल नजर आये हैं। आज हालात ये हो चुके हैं कि ताज नगरी आगरा के कई वार्डों में गंदगी का अंबार लगे हुए हैं। जहां ना तो सही से सड़कें बनी हुई है और ना ही पानी की कोई निकासी का प्रबंधन है और वही जगह-जगह कूड़े के ढेर भी पड़े हुए हैं।

By: Desk Team  RNI News Network
Updated:
gnews
आगरा: आगरा स्मार्ट सिटी पर ग्रहण, सड़कों पर भरा पड़ा कूड़े के ढ़ेर

आगरा नगर निगम के अधिकारी शहर की सफाई व्यवस्था पर अपनी आंखें बंद कर चुके हैं।आपको बता दें कि “यूपी की बात” की टीम शहर के अलग-अलग वार्डों में जाकर साफ सफाई का मुआयना कर रही है। जिसमें स्वच्छता के मामले में नगर निगम के हर वादे हर जगह फेल नजर आये हैं।

आज हालात ये हो चुके हैं कि ताज नगरी आगरा के कई वार्डों में गंदगी का अंबार लगे हुए हैं। जहां ना तो सही से सड़कें बनी हुई है और ना ही पानी की कोई निकासी का प्रबंधन है और वही जगह-जगह कूड़े के ढेर भी पड़े हुए हैं।

आप ये नजारा(नीचे यूट्ब वीडियो देखें)  ताज नगरी आगरा के शहीद नगर बड़ी मस्जिद के पास का है। यहां के स्थानीय लोगों का गंदगी के चलते बेहद बुरा हाल है। यहां की सड़कें बेहद खराब हैं, सड़कों में बड़े-बड़े गड्ढे बन गए हैं, जिनमें हर समय पानी भरा रहता है। यहां से गुजरने वाले कई वाहन चालक इन गड्ढों की वजह से हादसे का शिकार हो गए हैं। नालिया लंबे समय से बंद पड़ी हुई है।

जिसे उठाने के लिए नगर निगम का कोई कर्मचारी यहां नहीं आता है। स्थानीय लोगों का कहना है कि लंबे समय से इस जगह का यही हाल है ना तो नगर निगम के जिम्मेदार इस मुद्दे को सुनते हैं और ना ही यहां के स्थानीय पार्षद कोई सुनवाई करते हैं। वहीं कई बार नगर निगम और स्थानीय पार्षद से शिकायत के बाद भी इस जगह की स्थिति सुधर वैसी-की-वैसी बनी हुई है।

केंद्र की मोदी और प्रदेश की योगी सरकार स्वच्छता को लेकर तमाम प्रयास कर रही है।जिसके चलते सफाई कार्य के लिए नगर निगम को मोटा बजट दिया जा रहा है। इसके बावजूद भी यहां के लोग परेशान हैं और वो इसी गंदगी के साथ जीवन बसर करने को मजबूर हैं।

आपको ज्ञात करवा दें कि नगर निगम की लापरवाही की वजह से ताज नगरी कही जाने वाली आगरा की रैंकिंग लगातार गिरती ही जा रही है। लेकिन इस तरफ नगर निगम के जिम्मेदारों का ध्यान इस रिपोर्ट के बनने तक नहीं रहा है।

…ABHINAV TIWARI…

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें गूगल न्यूज़, फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...